Switch to the dark mode that's kinder on your eyes at night time.

Switch to the light mode that's kinder on your eyes at day time.

Switch to the dark mode that's kinder on your eyes at night time.

Switch to the light mode that's kinder on your eyes at day time.

Category: ग़ज़ल

Teri Ek Chhuvan Se

तेरी एक छुअन से

फिर जाग उठा अहसास तेरी एक छुअन से जैसे बदली छट गई नभ में छाई चिलमन से उभरी मदहोशी तेरे नाजुक होंठों को छूने से खुशबू तेरी फिर महक ने लगी मेरे बदन से आंखों में यूं उभरता तेरी हर यादों का दरिया खुलने लगे दबे राज मेरे चेहरे की शिकन से अब क्यों मिलना More

Read More »
Love

दिल

यूं ही किसी दिन तुम्हारे इंतज़ार में ज़िन्दगी हमारी गुज़र जाएगी दिल ए बेक़रार में दिल तो तुम्हारे भी धड़कता होगा शख़्स दिल है तुम्हारी धड़कनों के इंतज़ार में इतना ़ज्यादा अ़फसोस क्यों करते हो वही मिली है ना ज़िन्दगी जो थी अख़्तियार में नहीं मुमकिन है तेरे कहने भर से उनका आना अब तो More

Read More »
कोरोना-एक मुसीबत

कोरोना-एक मुसीबत

घर घर में रोते मुसीबत के मारे। शहर जल रहा है शहर के किनारे। दो गज जमीं भी नहीं मिल रही है, मौत ऐसी न देना मौला हमारे। खुदा मा़फ करना गुनाहगार हैं हम, हर इक जिंदगी है तुम्हारे सहारे। हर मर्ज की अब दवा तू है मौला, दवा इस वबा की हम करके हारे। More

Read More »
Messiah

मसीहा

ये बात और है कि मुझको बुरा लगे। उसकी झूठी बात भी सच की तरह लगे। समझने दो जो समझते हैं उसको मसीहा, बला से मेरी, वो शख्स, मेरा क्या लगे। किसी की मौत का कहां उसको मलाल है, कफ़न का कारोबार है, उसे हादसा लगे। आईना दिखलाए उसे उसके मुंह पर कौन? ऐ खुदा More

Read More »
Back to Top

Log In

Or with username:

Forgot password?

Don't have an account? Register

Forgot password?

Enter your account data and we will send you a link to reset your password.

Your password reset link appears to be invalid or expired.

Log in

Privacy Policy

Add to Collection

No Collections

Here you'll find all collections you've created before.

होम
मैगज़ीन
सारे केटेगरी
अकाउंट
पोस्ट करे